अमिताभ बच्चन जीवनी। सामान्य जानकारी, करियर, शिक्षा, अवार्ड्स की जानकारी

अमिताभ बच्चन को 21वी सदी का महानायक कहा जाता है और जिन्होंने अपनी life में बहुत से rejection सहे हैं।आज हम बात करेंगे उनकी जीवनी के बारे में कि उन्होंने कैसे bollywood में सफलता के झंडे गाड़े और success के नए आयामों को छुआ। शायद ही आज कोई ऐसा bollywood star होगा जो अमिताभ बच्चन से प्रेरित ना हो क्योंकि उन्होंने अपनी जिंदगी में वह कारनामा किया है जिसे करने के लिए लोग तरसते हैं

amitabh bachchan full biography in hindi

अमिताभ बच्चन को हिंदी सिनेमा में शहंशाह और Big B के नाम से भी जाना जाता है अमिताभ बच्चन हिंदी सिनेमा के सबसे प्रभावशाली और सबसे बड़े अभिनेता हैं इनकी acting का तो कोई जवाब नहीं इनकी acting का सभी कोई कायल हैं आइए जानते हैं अमिताभ बच्चन की जिंदगी के बारे में –

Amitabh Bachchan का जन्म 11 अक्टूबर 1942 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हुआ था अमिताभ का पहला नाम अमिताभ नहीं था इन्हें पहले इंकलाब के नाम से जाना जाता था क्योंकि जब इनका जन्म हुआ था उस समय इंकलाब जिंदाबाद का नारा बहुत ज्यादा जोरों पर था और इनके पिता एक कवि थे जो कि देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ रहे थे इसी से इंस्पायर होकर इनके पिता ने इनका नाम इंकलाब रखा था लेकिन एक करीबी दोस्त सुमित्रा नंदन पंत के कहने पर उन्होंने इंकलाब नाम बदलकर अमिताभ बच्चन नाम रख दिया और आज उस नाम से उन्हें पूरी दुनिया जानती है।

इनके पिता का नाम हरीश राय बच्चन का जो कि एक अपने जमाने की बहुत ही famous कवि थे उनकी कविताएं आज भी बहुत ज्यादा लोकप्रिय हैं और इनकी माता का नाम तेजी बच्चन था जो कि एक समाज सेविका रूप में जानी जाती थी। हम बात करें अभिताभ के निजी जिंदगी के बारे में तो इनकी शादी जया बच्चन से हुई जो कि एक बहुत ही famous actress थी। आज अमिताभ बच्चन के दो बच्चे भी हैं उनके बेटे का नाम है अभिषेक बच्चन और उनकी बेटी का नाम है श्वेता बच्चन।

Education

अमिताभ बचपन में पढ़ाई में अच्छे थे और उनकी प्रारंभिक शिक्षा Saint Mary College में हुई जो कि इलाहाबाद में ही स्थित था। यह एक बहुत ही famous स्कूल था। इन्होंने आगे की पढ़ाई करने के लिए Sherwood college में admission ले लिया जो कि उस समय का एक नामी college था और यह कॉलेज नैनीताल में स्थित था जहां पर अमिताभ बच्चन पढ़ाई तो किया ही करते थे लेकिन वहीं पर अभिनय में भी उन्होंने अपना हाथ आजमाया । वहां पर Amitabh Bachchan ने कुछ नाटकों में भाग लिया। जैसे ही उनकी नैनीताल से पढ़ाई complete हुई है उन्होंने दिल्ली के Kirori Mal College में admission ले लिया और वहां से अपना graduation complete किया इसके बाद वह नौकरी की खोज करते रहे लेकिन उन्हें किसी ने भी नौकरी नहीं दी।

Career

जैसे ही अमिताभ ने अपनी education complete की उसके बाद वह job ढूंढने में लग गए लेकिन उन्हें किसी जॉब में भी सफलता हासिल नहीं हुई और वह struggle ही करते रहे। इसके बाद उनके एक दोस्त के कहने पर उन्होंने All India Radio में voice निरीक्षण के लिए apply किया लेकिन वहां पर उन्हें rejection ही मिला और उन्हें यह कहकर वहां से यह निकाल दिया गया कि आपकी आवाज बहुत ही भद्दी और मोटी है जिसके कारण उन्हें यह जॉब नहीं मिल सकती है। उन्हें इस job के लिए एक बार नहीं 2 बार reject किया गया था क्योंकि उन्होंने इस job के लिए दो बार apply किया था लेकिन वह दोनों बारी असफल रहे। जब उन्हें यहां पर सफलता नहीं मिली तो वह अपने दोस्तों के साथ कोलकाता में रहने लगे और उन्होंने वहां पर बहुत सी private company में कम salary पर काम किया और लगभग वहां पर अपने जीवन के 5 साल व्यतीत किए। उसके बाद अमिताभ बच्चन ने अपना career acting में बनाने की सोची और वह 1968 में मुंबई की ओर रवाना हो गए लेकिन मुंबई में जान – पहचान ज्यादा ना होने के कारण इन्हें अपनी कुछ रातें Marine Drive पर ही सो कर बितानी पड़ी लेकिन आगे चलकर यहां पर आने के बाद उन्हें एक काम मिला जिसमें उन्हें voice narrator के रूप में काम किया। जहां पर उन्हें All India Radio ने उनकी आवाज़ के कारण उन्हें reject कर दिया था वहीं मुंबई में आकर उन्हें उनकी voice के लिए ही काम मिला जहां पर उन्होंने फिल्म bhuvan shome के लिए अपना आवाज दी और इसके लिए अमिताभ बच्चन को ₹300 भी मिले थे । अमिताभ बच्चन उस समय struggle कर ही रहे थे कि उन्होंने extra काम भी करने का सोचा वह फिल्मों में जो भी crowd scene रहते है उसमें शामिल हो गए और और यह काम करने की सोचा लेकिन legendary actor शशि कपूर ने उनकी तरफ देखा और कहा कि तुम्हें छोटे-मोटे काम करने के लिए नहीं बने हो अगर तुम छोटे काम करते रहे तो तुम्हें कोई फिल्म में साइन नहीं करेगा इसलिए उन्हें इस फिल्म में काम नहीं किया और फिर crowd scene से हट गए।

अमिताभ के Godfather के रूप मे Rishikesh मुखर्जी की बात सबसे पहले की जाती है अगर कभी भी अमिताभ के filmy career के बारे में बात किया जाता है क्योंकि ऋषिकेश मुखर्जी ने ही उन्हें पहला ब्रेक फिल्मों में दिया था। ऋषिकेश मुखर्जी ने अमिताभ बच्चन को फिल्म आनंद और गुड्डी में साइन किया था लेकिन आगे चल कर उन्हें गुड्डी फिल्म से बाहर कर दिया गया क्योंकि जब ऋषिकेश मुखर्जी ने देखा कि अमिताभ बच्चन फिल्म Anand में इतना शानदार काम कर रहे हैं तो वह किसी छोटे-मोटे रोल को नहीं करना चाहिए और उन्होंने उन्हें गुड्डी फिल्म से बाहर कर दिया क्योंकि गुड्डी फिल्म में अमिताभ का रोल बहुत ही छोटा था। फिर उन्हें ऋषिकेश मुखर्जी की एक फिल्म नमक हलाल में भी sign किया गया जिसमें उन्हें एक angry young man के रूप में पेश किया गया था इसी फिल्म के बाद उन्हें एक और फिल्म मिली और यह फ़िल्म उनकी किस्मत बदलने वाली फिल्म थी जिस फिल्म का नाम था “जंजीर”। यह तो सभी लोग जानते हैं की जंजीर फिल्म को बहुत से बड़े-बड़े actor ने reject कर दिया था और जैसे तैसे यह film घूम-घूमकर अमिताभ बच्चन के पास पहुंची और अमिताभ बच्चन ने इस फिल्म को साइन किया और इसके बाद से अमिताभ बच्चन की एक angry young man की image सभी लोगों के सामने आई

उस समय 70 का दशक चल रहा था और उस समय romantic hero जैसे कि राजेश खन्ना, ऋषि कपूर आदि बहुत ही famous actor की हुआ करते थे लेकिन उस समय एक character और आया जो कि angry young man का था और जिसे लोगों द्वारा बहुत ही ज्यादा पसंद किया गया और फिर एक नया दौर शुरू हुआ । angry young man यानी कि अमिताभ बच्चन का व्यवहार भी बहुत अच्छा था और उनकी जोड़ियां भी बहुत ही अच्छी चली है खासकर यश राज चोपड़ा के साथ या फिर प्रकाश मेहरा या फिर रमेश सिप्पी। यह सभी उस समय की बहुत ही जाने माने producer और director हुआ करते थे। अमिताभ बच्चन को इन सबके साथ काम करने का बहुत ज्यादा मौका मिला और अमिताभ बच्चन का करियर इस समय बहुत ही परवान पर था और angry young man की इमेज ऐसी बन चुकी थी कि इनके सामने कोई भी दूसरा हीरो नजर नहीं आ पा रहा था तभी उस समय एक घटना घटी जो इनकी जान भी ले सकती थी लेकिन भगवान को यह मंजूर नहीं था क्योंकि दुआओं में वो असर होता है जो दवाओ में भी नहीं होता यह घटना है फिल्म कुली की जिसमे एक सीन के दौरान उनके पेट की नस फट गई और ऐसा लगा कि यह महानायक शायद ही अब बच नही पाएगे और इस दुनिया को छोड़ कर चला जाएगे परंतु दुआओं में और डॉक्टर की मेहनत ने वह कर दिखाया जो शायद उस समय possible नहीं था और अमिताभ बच्चन को मौत के मुंह से वापस निकालना है।

अब समय था राजनीति में आने का अमिताभ बच्चन ने राजनीति में भी अपना हाथ जमाया क्योंकि यह राजीव गांधी के बहुत ही अच्छे मित्र हुआ करते थे और उन्होंने इलाहाबाद से चुनाव लड़ा और वहा वह जीत गए। परंतु अमिताभ बच्चन ज्यादा दिन तक पॉलिटिक्स में नहीं टिक पाए क्योंकि है और वह विवादों से गिर गए थे इसीलिए उन्होंने politics में से अपना नाम वापस लेना ही उचित समझा

एक समय ऐसा भी आया अमिताभ बच्चन की लाइफ में कि उनकी फिल्में वह कमाल नहीं दिखा पा रही थी जिनके लिए उन्हें जाना जाता है और जब उन्होंने फिल्म Khuda Gawah complete की और उन्होंने सोचा उन्हें अब फिल्मों से अपना कार्य समाप्त कर लेना चाहिए और किसी और फिल्में अपना हाथ नही आजमाएंगे। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने अपना business चलाने की सोची और उन्होंने ABC नाम की एक कंपनी खोली लेकिन वह बिजनेस में successful नहीं हुए और उन्हें इसमें बहुत झटके लगे और अमिताभ बच्चन इसके कारण bankrupt हो गए थे। फिर उन्होंने सोचा कि वह बिजनेस करने के लिए नहीं बने हैं वह सिर्फ एक्टिंग करने के लिए बने है और वह फिल्मों में फिर से वापस आ गए और इसके बाद डूबती नैया को पार लगाने के लिए उन्होंने छोटे पर्दे पर शुरुआत की “कौन बनेगा करोड़पति” से और कौन बनेगा करोड़पति नाम का सीरियल इतना चला कि यह सब जानते हैं कि यह सीरियल इनके बिना चल ही नहीं सकता।

अमिताभ बच्चन ने अपने जीवन में वह सब मुमकिन कर दिखाया है जो लोग करने का सोचते भी नहीं है और उन्हें लगता है यह नामुमकिन है इसलिए आज Amitabh Bachchan पूरी दुनिया महानायक के नाम से जानें जाते है और उन्हें शहंशाह और बिग B भी कहा जाता है। आज अमिताभ का नाम हिंदी सिनेमा में बहुत ही गर्व से लिया जाता है शायद ही ऐसा कोई होगा जो आज उनकी रिस्पेक्ट नहीं करता ।

Awards

वैसे तो अमिताभ बच्चन ने अपनी जिंदगी में बहुत से awards को अपने नाम किया है लेकिन हम यहां पर बात करेंगे कुछ उनके मुख अवार्ड की जो इन्हें इनकी जबरदस्त एक्टिंग के लिए मिले है । इन्हें गवर्नमेंट द्वारा चार बार नेशनल अवार्ड दिया जा चुका है इसके अलावा इन्हें भारत सरकार द्वारा पद्म श्री और पदम विभूषण से भी सम्मानित किया है।

List of some hit movies of Amitabh Bachchan

  • Sooryavansham
  • Sholay
  • Namak Halal
  • Agneepath
  • Piku
  • Bhoothnath
  • Deewar
  • Zanjeer
  • Black Don
  • Abhiman
  • Anand
  • pink
  • Sharabi
  • Bhagwan
  • Amar Akbar Anthony etc.

Leave a Reply