What is important to be happy always – ख़ुश रहने के लिए जरूरी क्या है ?

क्या आप जानते है खुश रहनेके लिए सबसेज्यादा महत्वपूर्ण बात क्याहै क्यों इसदुनिया में ज़्यादातरलोग अपने आपऔर अपनी क़िस्मतको कोसते रहतेहै क्या आपसमझते है किजिसके पास धन, दौलत और पैसाहै वो सबखुश है तोफिर जिनके पासबहुत पैसा हैवो लोग खुशक्यों नही रहतेये आप भीजानते है

What is important to be happy always



तो फिर खुशरहने रहने केलिए क्या आवश्यकहै खुश रहनेके लिए आवश्यकहैआपका अपनानजरिया कि आपहर चीज़  कोकिस नजरिये सेदेखते हैं
हर व्यक्ति का नज़रियादो प्रकार काहोता है
1 सकारात्मक(POSITIVE)

2 नकारात्मक(NEGATIVE)

अब में यहाँ एक वाक्या बताना चाहूंगा किसी शहरमें एक व्यक्तिअपने परिवार केसाथ रहता थावो वहाँ परनौकरी करता थाकुछ समय बादउसका तबादला(transfer) किसीगाँव में होगया वहा परकुछ दिन रहनेके बाद वोनिराश हो गयाऔर अपने आपको कोसने लगाकी मैं यहकहाँ फस गयाहूँ एक दिनवो अकेला गाँवमें घूमने केलिए निकला वोगाँव में उसजगह पर पहुँचाजहाँ पर बहुतसारे बेल केपेड़ लगे हुएथे। उनमे सेएक बेल कापेड़ बहुत सारेफलो से लदाहुआ था जिसकेकारण उसकी शाखाएँनीचे के ओरझुकी हुई थी

परन्तु उसने देखाकि एक पंडितउस पेड़ केपत्ते रोज तोड़करभगवान शंकर कोअर्पित करता हैजिसके कारण उसपेड़ में बहुतकम पत्ते बचेहुए है, यहदेखकर वह बहुतनिराश हुआ औरमन में सोचनेलगा जो सबसेनम्र होता हैउसी  को सबसेज्यादा दुख मिलतेहै और फिरवो वहाँ सेचला गया कुछदिन बादउसने देखा किसभी पेड़ केपत्ते किसी रोग(Disease) के कारण सूखरहे है, परन्तुवह यह देखआश्चर्यजनक रह गयाकि वो पेड़जिसके पत्ते वोपंडित भगवान शंकरको अर्पित करताथा उस पेड़पर यह रोग अपना प्रभाव नहीं डालसका क्योंकि उसपेड़ में बहुतकम पत्ते बचेहुए थे यह देख वह व्यक्ति बहुतखुश हुआ औरउसका नज़रिया अपनेजीवन के प्रतिभी बदल गयाऔर वो खुशरहने लगा

इस घटना सेहमे यह सीखमिलती है किहमे हमेशा सकारात्मकसोचना चाहिए औरखुश रहना चाहिये
 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *