मध्यप्रदेश की राजधानी नाम क्या है Madhya pradesh ki rajdhani

मध्य प्रदेश भारत का क्षेत्रफल के आधार पर दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। पर 2001 से पहले यह भारत का सबसे बड़ा राज्य हुआ करता था 1 नवंबर सन 2000 में इससे अलग करके एक नए राज्य छत्तीसगढ़ का निर्माण किया गया जिसके कारण इस राज्य क्षेत्रफल कम हो गया और दूसरे स्थान पर पुहुँच गया भारत का क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा राज्य कौन सा है इसके बारे में पहले भी बात कर चुके हैं।

madhya pradesh ki jansankhya kitni hai

मध्यप्रदेश की राजधानी का नाम भोपाल है भोपाल में बहुत सारे छोटे-बड़े तालाब होने के कारण इसे “झीलों की नगरी” नाम से भी जाना जाता है।

भोपाल में स्थित भारतीय वन प्रबंधन संस्थान भारत का एकमात्र और पहला प्रबंधन संस्थान है।

भोपाल को प्राचीन समय में भोजपाल के नाम से जाना जाता था जिसमे ‘भू’ का अर्थ होता है भूमि और ‘पाल’ का अर्थ होता है दूध। इन दोनों शब्दो को मिलाकर ही भोपाल नाम बना।

madhya pradesh ki rajdhani ka naam kya hai

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित झीलों का शहर नाम से संबोधित किया जाता है। टूरिज्म की दृष्टि से काफी उचित है यहां पर स्थित कान्हा किसली खजुराहो ओरछा, भोजपुर, ओमकारेश्वर, सांची, पचमढ़ी भीमबेटका, माधवगढ़, उज्जैन न जाने कितने अनगनित tourist places मध्यप्रदेश है।

एक और मान्यता के अनुसार भोपाल का नाम राजगोपालचारी के नाम पर पड़ा।

भोजपुर की स्थापना 1000-1055 ईसा पूर्व राजा भोज ने करवाई थी। उस समय राजा भोज की राज्य की राजधानी धार थी जो मध्य प्रदेश का एक जिला है जाता है कि धार का पुराना नाम भोजपाल था।

भोपाल शहर पर्यटन की दृष्टि से भी भारत का एक मशहूर शहर है। यहां पर उपस्थित भीमबेटका की गुफाएं, अभ्यारण, भारत भवन, सांची का स्तूप पर्यटकों के लिए हमेशा आकर्षण का केंद्र रहा है।

भारत के बीचो-बीच सेंटर में स्थित है इसीलिए मध्यप्रदेश को ‘हृदयप्रदेश’ के नाम से भी जाना जाता है।

मध्यप्रदेश की सीमाएं भारत के 5 राज्य उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान से मिलती है।

इस राज्य में हीरे और तांबे का सबसे बड़ा भंडार भी है। प्रदेश का एक जिला पन्ना हीरे के लिए पूरे भारत में प्रसिद्ध है।

Madhya pradesh tourism के मामले विकसित हैं यहां पर स्थित ग्वालियर किला tourist को काफी लुभाता है ग्वालियर को महर्षि गालिब की तपोभूमि भी कहते है।

Leave a Reply