पृथ्वी शाह की जीवनी – Prithvi Shaw Biography in Hindi

भारतीय क्रिकेट टीम का नए समय का सितारा पृथ्वी शाह, कोई पहला नौजवान बल्लेबाज नहीं है। परंतु अपने मेहनत और प्रतिभा से इस नए युवक ने भारतीय क्रिकेट टीम में अपना दबदबा कायम किया है। मुंबई से आए हुए इस नए नौजवान युवक ने बल्लेबाजी में अपना नाम कायम किया है। अगर आप इस नवयुवक के बारे में जानने में अधिक इच्छुक हैं, तो इस आर्टिकल को पढ़ते रहें – क्योंकि मैं पृथ्वी शाह के बारे में पूरी Detail से बताने वाला हूं। चलिए, पृथ्वी शाह के बारे में कुछ और जानकारी हासिल करते हैं।

पृथ्वी शाह की निजी जानकारी – Prithvi Shaw Personal Information

पृथ्वी शाह का पूरा नाम पृथ्वी पंकज शाह है। उनके पिता का नाम पंकज गुप्ता था, जिसे इन्होंने बाद में बदलकर पंकज शाह कर लिया। पृथ्वी को बहुत छोटी उम्र में ही अपनी माता का स्वर्गवास देखना पड़ा। और इनका जन्म 9 नवंबर सन 1999 में थाने महाराष्ट्र में हुआ। भारतीय क्रिकेट टीम में इनका मुख्य किरदार बैट्समैन का है, जिसे हम बल्लेबाज भी कहते हैं। और इनकी बल्लेबाजी का स्टाइल राइट हैंडेड बैट्समैन है। वहीं गेंदबाजी में यह राइट आर्म ऑफ-ब्रेक गेंदबाजी करते हैं।

उन्होंने भारतीय नेशनल क्रिकेट टीम के अंडर-19 में टीम कैप्टन की भूमिका निभाकर, शानदार करियर की मिसाल दी थी। इसके इलावा इन्होंने अंडर 14 एंड अंडर सिक्सटीन स्टेट लेवल टीमों में भी अपना जौहर दिखाकर दुनिया को अपना परिचय दिया था।

नवंबर 2013 में इन्होंने अभी तक का सबसे अधिक स्कोर बनाने का Record बनाया है जिस में इन्होंने 546 रन बनाकर 1901 में बनाए गए Record को तोड़ा था, जिसे बाद में प्रणव धनावडे ने 4 जनवरी 2016 को तोड़ दिया था।

पृथ्वी शाह की उपलब्धियां – Prithvi Shaw Carrier Statistics

यह एक दाएं हाथ के बल्लेबाज, जिसका बार-बार क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर से तुलनात्मक आंकलन होता रहता है। इन्होंने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय खिताब 4 अक्टूबर 2018 में हासिल किया था, जहां यह विश्व के दूसरे सबसे कम उम्र वाले भारतीय का दर्जा प्राप्त किया था जिसने टेस्ट मैच में सेंचुरी मारी हो।

इसके अलावा शाह को एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म जिसका नाम, बियोंड ऑल बाउंड्री (Beyond All Boundaries), मैं मुख्य किरदार की भूमिका में रखा गया था। और इनकी अद्भुत प्रतिभा को नजर में रखते हुए इन्हें दो बार इंग्लैंड भेजा गया ताकि इनकी क्रिकेट की पढ़ाई पूरी की जा सके।

  • पृथ्वी शाह ने 1 जनवरी 2017 को 2016-17 सेमी फाइनल रणजी ट्रॉफी के मैच में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया था। जहां इन्होंने दूसरी इनिंग में सेंचुरी बना कर, मैन ऑफ द मैच का खिताब हासिल किया था।
  • वहीं पृथ्वी शाह ने दिलीप ट्रॉफी में भी सचिन तेंदुलकर के स्कोर Record को बराबरी की टक्कर दे कर सेंचुरी बनाई थी।
  • दिसंबर 2017 में, भारतीय अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में इन्हें टीम का कैप्टन होने का दर्जा दिया गया था।

पृथ्वी शाह की शुरुआती जिंदगी – Prithvi Shaw Early Life

पृथ्वी शाह को सन 2010 में आप एंटरटेनमेंट द्वारा एक कॉन्ट्रैक्ट का ऑफर दिया गया था जिसके फलस्वरूप इन्हें मुंबई आकर अपनी क्रिकेट की पढ़ाई को जारी रखने का सुनहरा अवसर मिला। और सबसे बड़ी उपलब्धि में इन्हें इंडियन ऑयल द्वारा स्पॉन्सरशिप का भी सपोर्ट रहा।

पृथ्वी शाह का मुख्य घर गया, बिहार में है जहां से इन्होंने महाराष्ट्र में पलायन किया। और महाराष्ट्र में इनकी क्रिकेट प्रतिभा को बहुत सराहा गया।

पृथ्वी शाह in Indian Premier League –  इंडियन प्रीमियर लीग में पृथ्वी शाह

इंडियन प्रीमियर लीग द्वारा पृथ्वी शाह ने, भारतीय जनता के दिलों में बहुत बड़ा स्थान प्राप्त किया। उनकी उपलब्धियों का कुछ गिने चुने तथ्यों में लिखने का प्रयास करता हूं।

  • जनवरी 2018 में पृथ्वी शाह को Delhi Daredevils ने 2018 IPL के लिए2 करोड़ रुपयों में खरीदा था।
  • 23 अप्रैल 2018 को इंडियन प्रीमियर लीग में, पृथ्वी शाह अभी तक के सबसे कम उम्र वाले ओपनिंग बल्लेबाज बन गए, जिस में इन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ ओपनिंग की।
  • जहां इन्होंने 10 बॉल में 22 रन बनाकर, भारतीय जनता को अचंभित कर दिया।
  • 27 अप्रैल 2018 को पृथ्वी शाह मैं अपना पहला 50 रन का खिताब Kolkata knight Riders के खिलाफ अर्जित किया।

पृथ्वी शाह व्यक्तित्व अंतर्दृष्टि – Prithvi Shaw Personality Insight

दूसरे भारतीय क्रिकेटरों से हटकर, पृथ्वी शाह शॉर्ट पिच बॉलिंग के खिलाफ डटकर टिके रहते हैं। और इनकी रनों के लिए बढ़ती हुई भूख इन्हें हर क्रिकेटर के लेवल से अलग ही पहचान देती है। यह कहना गलत नहीं होगा कि कुछ वर्षों में यह भारतीय क्रिकेट टीम में एक बहुत बड़ी हस्ती की तरह देखे जाएंगे। कुछ लोग तो इनकी तुलना अभी से विराट कोहली और क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर से करने लगे हैं।

नवंबर 2013 में पृथ्वी शाह ने नाबाद 546 रन सिर्फ 330 गेंदों में बनाकर एक अलग ही Record कायम कर दिया।

  • जिस Record को बाद में प्रणव धनावडे ने 4 जनवरी 2016 को तोड़ दिया। परंतु पृथ्वी शाह का Record अभी भी इंटरनेशनल क्रिकेट में, AEJ Collins’s के 628, और Charles Eady’s 566 के बाद चौथे स्थान पर है।
  • पृथ्वी शाह ने किसी ने 6 घंटे और 7 मिनट खेलकर, कुल 85 चौकों और 5 छक्कों द्वारा अपने इस Record को बनाया। जबकि बाद में उन्हें बोल्ड कर दिया गया।
  • उन्होंने यह Record सचिन तेंदुलकर के रिटायरमेंट के 1 सप्ताह पहले ही बनाया था, जिसके कारण मीडिया में इन्हें दूसरा सचिन के नाम से बहुत चर्चित किया गया।
  • अगस्त 2018 में, पृथ्वी शाह को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में खेलने का मौका दिया गया, परंतु कुछ कारणों के कारण उन्होंने वह नहीं खेला।
  • इसके बाद सितंबर 2018 में, उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में खेलने का न्यौता दिया गया।
  • 4 अक्टूबर 2018 में, पृथ्वी शाह ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में सबसे कम उम्र के बल्लेबाज का खिताब हासिल किया जिसने टेस्ट मैच में maiden century बनाई हो।
  • भारत ने यह test cricket match 10 रनों से जीत लिया, जिसमें पृथ्वी शाह को प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब हासिल हुआ।

अंत में मैं यही कहना चाहूंगा कि इतनी कम उम्र में अगर कोई व्यक्ति इतना सब कुछ प्राप्त कर सकता है, और उसकी तुलना विश्व के जाने-माने धुरंधरों के साथ की जा सकती है तो यह कहना गलत नहीं होगा कि पृथ्वी शाह आने वाले समय में क्रिकेट की दुनिया को अपने कदमों में झुकाने की ताकत रखते हैं। इनकी ख्याति को तो आने वाला समय ही बताएगा।

Read also :-

Leave a Reply