बाद में पछतावा – प्रेरक कहानी

प्रेरणा एक ऐसी चीज है, जो की किसी के भी life में बदलाव ला सकती है । फिर चाहें वह कोई भी व्यक्ति और किसी भी हालात में हो आपने भी कई बार किसी भी घटना के बारे में सुना होगा कि लोग गुस्से में कुछ भी किसी के साथ गलत कर जाते फिर चाहे वह कोई अपना ही क्यों न हो पर बाद में पछतावा जरूर होता है। पर अंत में पछतावे के सिवा कुछ भी नहीं रह जाता यह कहानी एक ऐसे ही person की है। जिसे गलती करने के बाद में सिर्फ पछतावे के सिवा कुछ भी हासिल नहीं होता ।moral story

यह बात किसी शहर की है एक आदमी ने कार खरीदी, कर खरीदकर वह घर लेकर आया उसी समय उसकी चार साल की बेटी घर पर थी उसने देखा की पापा घर पर new कार लाये है। यह देख उस आदमी की बेटी दौड़ते हुए कार के पास आई और पत्थर उठाकर कार पर कुछ लिखने लगी । उसके पिता ने कार पर स्क्रैच लगते देख। लड़की की हाथ की उंगलिया इतने जोर से मरोड़ी की उसकी उंगलिया ही टूट गई पर बाद में वह उसे hospital ले गया वहा पर उसको प्लॉस्टर किया गया।

फिर जैसे ही वह आदमी लड़की के पास गया उस लड़की ने अपने पिता का हाथ पकड़ लिया और पूछा कि पापा मेरी उंगलिया कब ठीक होगी। यह सुन उसके पिता को बहुत ही पछतावा हुआ। और बाहर कार के पास आकर उसमें लातें मारने लगा तभी उसकी नजर कार पर उस जगह पर पड़ी, जहाँ उस लड़की ने पत्थर से कुछ लिखा था उसकी बेटी ने लिखा था – आई लव यु डैडी। मतलब मैं आपसे बहुत प्यार करती हूँ ।

सीख – हमेशा याद रखे गुस्से और प्यार की कोई सीमा नहीं होती चीजें इस्तेमाल करने के लिए होती है और प्यार बाँटने के लिए, पर लोग करते इसका उल्टा है चीजों से प्यार करते है और लोगो को इस्तेमाल।

Leave a Reply