Unemployment reason in hindi – Educated होने के बाद भी लोग बेरोजगार हैं

जैसा कि हम जानते है आजकल ग्रैजुएट्स यहां तक की पोस्ट ग्रैजुएट्स लोग भी बेरोजगार है इसका मुख्य कारण है कि लोगो के पास डिग्री होने के बाद भी Skill की कमी होना हाल ही में एक रिक्रूटमेंट से जुड़ी फर्म ने सर्वे में पाया है कि भारत में ज्यादातर कंपनिया ग्रेजुएट्स की क्षमताओं से असन्तुष्ट है यह शिकायत लगातार रही है कि देश की शिक्षा व्यवस्था अच्छे प्रोफेशनल पैदा करने में असफल साबित हुई है। जिसके साथ ही बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है और हम अन्य देशो की तुलना में पीछे है।
ग्रैजुएट्स, पोस्ट ग्रैजुएट्स  में इन बात की कमी
  • कम्युनिकेशन स्किल्स – Communication Skill
कम्युनिकेशन स्किल एक बड़ा कारण है अगर आपके पास यह प्रॉपर स्किल तो कोई भी कंपनी आपको रिजेक्ट कर देती है नये ग्रैजुएट्स प्रोफेशनल्स में मौखिक Oral और लिखित Written संवाद कुशलता Conversation Skill की कमी है यह बातें उनके टाइम मैनेजमेंट और बिज़नेस डील्स को प्रभावित करती है गौरतलब है की कई युवा ख़राब अंग्रेजी के कारण कंपनियो में जगह नही बना पाते एक सर्वे में खुलासा हुआ था कि उन्होंने जिन  हजार ग्रेजुएट्स से बात की, उनमे से 90 फ़ीसदी अंग्रेजी बोलने में असमर्थ थे।
  • प्रैक्टिकल नॉलेज – Practical knowledge
देश भर में ज्यादातर शिक्षा संस्थानों का ध्यान सिर्फ थ्योरिटिकल नॉलेज पर रहता है, जबकि कंपनियों की माँग प्रक्टिकल नॉलेज की होती है इसलिए 90 प्रतिशत भारतीय ग्रेजुएट्स को ट्रेनिंग की जरूरत होती है, जबकि सिर्फ 14 प्रतिशत  विदेशी ग्रेजुएट्स ऐसे होते है जिन्हें ट्रेनिंग की जरूरत पड़ती है ग्रेजुएट्स में क्रिएटिविटी इनोवेशन व रिसर्च वर्क नही होती नतीजतन कई स्टूडेंट्स को इन कमियों की वजह से डिग्री होने के वाबजूद नौकरी नही मिल पाती है और बेरोजगारी की समस्या वजह बन जाती है।
  • इनोवेशन – Innovation
एम्प्लॉई तय ढांचे में ही काम करना पसंद करते है इनोवेशन को मामले में न तो उनकी रूचि होती है और न ही इतना ज्ञान कि कुछ नया कर सकें टेक्निकल एजुकेशन लेने वाले भी प्रक्टिकल नॉलेज के मामले में बोने साबित हो रहे है दुनिया में सबसे ज्यादा इंजीनियर भारत में पैदा होते है, लेकिन बेरोजगार इंजीनियर भी सबसे अधिक यही है कारण यह है कि टेक्नोलॉजी तो बढ़ रही है लेकिन उसके हिसाब से टेक्निकल एजुकेशन में अपडेशन नही हो रहा है जिसके कारण युवा पिछड़ते जा रहे है और एक मुख्य कारण है बेरोजगारी का ।

Leave a Reply